Showing posts with label Benefits. Show all posts
Showing posts with label Benefits. Show all posts
प्याज भारत के हर घर की रसोई में इस्तेमाल की जाने वाली सब्जी है जिसे कईं व्यंजनों में अपने स्वादानुसार उपयोग किया जाता है।


कईं लोग प्याज का सेवन तो करते हैं लेकिन इसके फायदे और इस्तेमाल के बारे में नहीं जानते। इसलिए हमने यह पोस्ट उन लोगों के लिए पब्लिश किया है जो प्याज़ से संबंधित कुछ तथ्यों में रुचि रखते हैं।

प्याज़ क्या है?

प्याज़ एक वनस्पति है जिसका कन्द सब्जी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। प्याज़ की सर्वाधिक पैदावार भारत के महाराष्ट्र में कई जाती है। भारत द्वारा कईं देशों में प्याज का निर्यात किया जाता है।

प्याज में एलाइल प्रोपाइल डाय सल्फाइड नामक तेल होता है जो इसके कन्द में मौजूद होता है। इसके कारण कच्चे प्याज़ का स्वाद थोड़ा तीखा होता है।

प्याज़ के इस्तेमाल सब्ज़ी, मसाले, अचार और सलाद के रूप में किया जाता है। प्याज़ को इन रूपों में इस्तेमाल करने से इसका स्वाद कईं अधिक बढ़ जाता है।

प्याज़ कितने प्रकार के होते हैं?

सामान्यतः प्याज़ की छह प्रजातियां भारत में पाई जाती है:
  1. मीठा प्याज़
  2. सफेद प्याज़
  3. हरी प्याज़
  4. लाल प्याज़
  5. जंगली प्याज़
  6. पीली प्याज़

प्याज़ को रात में खाने के फायदे

यदि प्याज़ का नियमित सेवन किया जाए तो इससे शरीर मे ब्लड प्रेशर की समस्या खत्म होती है। प्याज़ को रात में दो से तीन बार खाने से आप में विटामिन सी की कमी दूर होती है। यदि आपको चर्म रोग और आंखों से संबंधित संक्रमण हुआ है तो वह विटामिन सी की कमी हो सकती है। इसलिए यदि आप प्याज़ का सेवन करेंगे तो आपको राहत मिलेगी।

प्याज़ खाने से सीने में जलन क्यों होती है?

प्याज़ को औसतन खाना आपके लिए फायदेमंद है। लेकिन इसका अधिक सेवन शरीर को क्षति पहुंचा सकता है। प्याज़ में पोटैशियम होता है जो शरीर के कॉर्डियोलिवर को नुकसान पहुंचाता है, जिसके परिणामस्वरूप आपके सीने में जलन होने लगती। इस प्रकार की जलन से कईं गंभीर रोगों के उत्पन्न होने की संभावना होती है। इस प्रकार की किसी भी समस्या होने पर जल्द से जल्द उसका इलाज करें।

रोज़ाना खाली पेट प्याज़ का सेवन लाभदायक है

यदि आपकी उम्र 15 वर्ष से अधिक है तो आप इसका सेवन सुबह खाली पेट कर सकते हैं। आप इसका सेवन किसी भी रूप में कर सकते हैं किंतु ध्यान रहे प्याज़ कच्चा ही होना चाहिए। इसके खाली पेट सेवन से आपकी रोग प्रायिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है और पाचन क्रिया तेज़ होती है।